युवाओं के सामने चुनौतियां व आधुनिक तकनीकी के प्रति दृष्टि कोण विषय पर हुई चर्चा

0

म्योरपुर (राजीव मिश्र)

image

म्योरपुर। कल जिससे मिली पहचान, आज उसी की बनेंगे आवाज स्लोगन पर आधारित दो दिवसीय विद्यार्थी मिलन समारोह का दूसरे दिन विभिन्न आयामों पर चर्चा के साथ सोमवार को समापन हो गया।इस दौरान सभी ने अपने अनुभव प्रस्तुत करते हुए आश्रम के कार्यों में रुचि के साथ जुड़ने की बात कही।इस मौके पर बड़ी संख्या में पूर्व विद्यार्थी और शिक्षक मौजूद रहे।दो दिवसीय विद्यार्थी मिलन समारोह के दूसरे दिन सोमवार को प्रतिभागियों ने मुख्य द्वार पर दीप प्रज्वलन कर यवतमाल महाराष्ट्र के समाज चिन्तक आश्रम के पूर्व गुरुजी दिनकर चौधरी के अध्यक्षता में कार्यक्रम का शुरुआत किया गया।

image

युवाओं के सामने चुनौतियां व आधुनिक तकनीकी के प्रति दृष्टि कोण विषय पर पूर्व आश्रम विद्यार्थी व वर्तमान में सह समन्वयक ब्लाक संसाधन केंद्र दुध्दी नीरज कन्नौजिया ने विस्तार से चर्चा में किया।प्रयागराज से विभुति विक्रम ने कहा कि समाज को दिशा देने के लिए बनवासी सेवा आश्रम जैसा संस्थान का रहना अति आवश्यक है।इसके लिये आप जैसे पूर्व आश्रम विद्यार्थी ही कर सकते हैं और आपको आगे आने की जरूरत है।सर्वोदयी विचारक अरविंद अजुंम ने कहा कि विकास की सही दृष्टिकोण हमें तय करनी चाहिए।

image

पूर्व प्रधानाचार्य ओंकारनाथ त्रिपाठी ने कहा कि जन्म लेने वाला बच्चा अपने परिवार समाज का अध्ययन खुद कर लेता है।इसी प्रकार संस्था में रहा व्यक्ति सब कुछ जानता है।उन्होंने कहा संस्था समाज का दर्पण होती है।समापन के दौरान समारोह में गुरूजनो को समानित किया गया।कार्यक्रम में सन्तोष कन्नौजिया, देवेन्द्र कुमार, देवराज, कमल भाई, जगजीवनराम, पूनम गुप्ता, संदीपसिंह, सीताराम, अनुबहन, शुभाबहन, कमला भाई, गल्लर भास्कर, विगन गुरुजी, राजेश्वर कार्यक्रम में शामिल रहे।छात्रावास के बच्चों ने आगन्तुकों को ग्रीटींग कार्ड देकर नववर्ष की शुभकामनाएं दी।पूर्व विद्यार्थियों ने एक समूह का गठन किया और आश्रम के साथ मिलकर कार्यक्रम तय किया।समारोह का संचालन शिवशरण सिंह व देवनाथ भाई ने किया।

image

Share.