जाली नोट जमा करने के मामले में एसबीआई शाखा प्रबंधक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज

0

ओबरा (पीडी राय/सौरभ गोस्वामी)

image

ओबरा। स्थानीय भारतीय स्टेट बैंक द्वारा नोटबंदी के दौरान 36 हजार 500 रुपए के जाली नोट जमा करने के मामले में गुरुवार को ओबरा थाने में शाखा प्रबंधक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।मामले में कस्बा चौकी इंचार्ज एसआई प्रदीप मिश्रा ने बताया कि रिजर्व बैंक प्रबंधक दावा अनुभाग कानपुर सत्य कुमार की तहरीर पर ओबरा शाखा प्रबंधक के खिलाफ धारा 498 ए के तहत मामला पंजीकृत किया गया है।बताया कि शाखा प्रबंधक द्वारा नोटबंदी के दौरान एक हजार रुपये की 20 तथा 500 की 33 जाली नोटों को जमा कर रिजर्व बैंक भेजा गया था।वहीं इस मामले में श्री कुमार ने तहरीर देकर अवगत कराया है कि ओबरा एसबीआई शाखा द्वारा आरबीआई को भेजे गए रुपए की गड्डियों की जांच के दौरान कुल रुपये 36500 के जाली नोट रिजर्व बैंक को प्राप्त हुए हैं।वहीं दूसरी ओर जाली नोटों को लेकर रिजर्व बैंक द्वारा कराए गए मुकदमे की सूचना मिलते ही बैंक शाखा प्रबंधक सहित कैशियर व अन्य कर्मचारियों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है।

Share.