दोपहर में ही बंद हो गया परिषदीय विद्यालय, एक दिन का वेतन काटने की संस्तुति

0

म्योरपुर (राजीव मिश्र)

image

म्योरपुर। स्थानीय विकास खण्ड कीक नधिरा ग्राम पंचायत का प्राथमिक विद्यालय नवाटोला दोपहर साढ़े बारह बजे ही बंद हो गया।चार अध्यापकों की तैनाती के बावजूद विद्यालय बंद होने के मामले की जांच शिक्षा महकमे ने शुरू कर दिया है।मामले में जिलाधिकारी ने कार्यवाई की बात कही है।म्योरपुर विकास खण्ड का नधिरा ग्राम पंचायत का प्राथमिक विद्यालय नवाटोला दोपहर साढ़े बारह बजे ही बंद हो गया।इस दौरान वहां मौजूद बच्चों व उनके अभिभावकों ने बताया कि विद्यालय में चार लोगों की तैनाती की गई है, जिसमें से दो शिक्षा मित्र जो गांव के ही हैं वह नियमित आते हैं।बताया कि सहायक अध्यापक के पद पर तैनात लोगों का पता नहीं रहता है।विद्यालय में दोपहर 12 बजे 40 बच्चों का मध्यान्ह भोजन बना था।इस दौरान भोजन के बाद विद्यालय में छुट्टी कर दी गई।ग्रामीणों की माने तो बृहस्पतिवार को मुकेश नाम का शिक्षामित्र ही विद्यालय पर उपस्थित हुआ था।इसके अलावा कोई भी विद्यालय नहीं पहुंच सका था।बताया कि मुकेश की तबीयत ठीक न होने की वजह से वह भी जल्दी विद्यालय बंद करके चला गया।इस संबंध में जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह ने कहा कि मामले की जांच कर संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।खंड शिक्षा अधिकारी सुरेंद्र प्रताप सहाय ने बताया कि कुछ अध्यापक चिकित्सकीय अवकाश पर हैं।कहा जिनको आना था और नहीं आए उनके खिलाफ एक दिन का वेतन काटने की संस्तुति की गई है।बताया कि विद्यालय नौ बजे से तीन बजे तक हरहाल में खोला जाना है।बताया कि विद्यालय की जांच कराई गई और विद्यालय वास्तव में बंद पाया गया है।

Share.