शहीदों की चिताओ पर लगेंगे हर बरस मेले, देखना है जोर कितना बाजुएँ कातिल में है

0

दुद्धी (पिंटू अग्रहरि)

image

– भारत माँ की अस्मिता पर आँख उठाने वालों की आँख निकाल लो- सुरेन्द्र अग्रहरि

– भारत का नौजवान, अपनी मातृभूमि के लिए जीना सीखे- सुरेन्द्र अग्रहरि

दुद्धी। महावीर सरस्वती विद्या मंदिर दुद्धी के प्राँगण में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा एक संगोष्ठी का आयोजन शौर्य दिवस के उपलक्ष्य में किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भाजपा नेता डीसीएफ चेयरमैन सुरेन्द्र अग्रहरि ने सर्वप्रथम विवेकानंद व माँ सरस्वती व भारत माता के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर पुष्पार्चन कर किया।संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए सुरेन्द्र अग्रहरि ने कहा कि 6 दिसम्बर 1992 को कारसेवकों ने अयोध्या में स्थित बाबरी मस्जिद को गिरा दिया था।तभी से 6 दिसम्बर के दिन को शौर्य दिवस के रूप मनाया जाता हैं।उससे पहले विदेशी आक्रांताओं ने भारत पर आक्रमण कर हिंदू आस्था पर चोट पहुचाने का कार्य किया था।

image

हिन्दु आस्था का प्रतीक कोई भी वस्तु को यदि कोई व्यक्ति आँख उठाकर देखने की हिम्मत करे तो उसका आँख निकाल ले।भारत माता के नौजवान अपनी मातृभूमि के लिए जीना सीखे।भारतीय सेना के जवान भारत की सीमा पर रक्षा करते हुए अपने प्राणों की आहुति दे देते है।उनके सम्मान के लिए शौर्य दिवस मनाया जाता है।कारगिल में भी युद्ध करते हुए भारतीय सेना के जवान अपनी भूमि पर कब्जा करने वाले पाकिस्तान की सेना को धूल चटा दिया था।ठीक उसी प्रकार हम भी भारत माता की रक्षा के लिए हमेशा तैयार रहे और हिन्दू आस्था पर चोट पहुंचाने वाले लोगो को धूल चटाने का कार्य करे।इस अवसर पर छात्र संघ अध्यक्ष परमजीत सिंह, पूर्व महामंत्री अनिकेत केशरी, आलोक पाण्डेय सहित विद्यालय के आचार्य राजीव, भगवान दास सहित सभी छात्र, छात्राये उपस्थित रहे।संचालन कुंदन कुमार ने किया।

image

Share.

Comments are closed.

error: Content is protected !!