बंद इकाइयों को चालू करने हेतु एमडी ने गठित किया पांच सदस्यीय टीम

0

ओबरा (पीडी राय/सौरभ गोस्वामी)

image

ओबरा। स्थानीय तापीय परियोजना में बीते रविवार की भोर ब तापघर की केविल गैलरी में फ्लैश ओवर हो जाने के चलते आग लग गई थी।इसके चपेट में आकर तापीय परियोजना की 200 मेगावाट क्षमता वाली 9वीं,10वीं,11वीं तथा 12वीं इकाई बंद हो गई थी।वहीं इस मामले में मंगलवार की शाम उत्पादन निगम के प्रबंध निदेशक सेंथिल पांडियन सी के निर्देशन में निदेशक तकनीकी इं वीएस तिवारी की अध्यक्षता में मुख्य महाप्रबंधक वित्त एमसी पाल, अनपरा तापीय परियोजना के मुख्य महाप्रबंधक इं अखिलेश कुमार सिंह, ओबरा तापीय परियोजना के मुख्य महाप्रबंधक इं एके सिंह तथा महाप्रबंधक ब इं डीके मिश्रा की पांच सदस्यीय  टीम बनाकर आग लगने के चलते बंद हुई इकाई संख्या 9, 10 तथा 11 की समस्त तकनीकी खराबीयों को दूर करके उत्पादन पर जल्द लाने हेतु आदेश करने के साथ उक्त इकाइयों के नवीनीकरण से संबंधित समस्त प्रस्ताव का तकनीकी एवं वित्तीय परीक्षण कर अपनी संस्तुति के साथ प्रस्तुत करने की बात कही है।प्रबंध निदेशक के आदेशानुसार गठित टीम द्वारा बुधवार को तापीय परियोजना की नौवीं तथा दसवीं इकाई का निरीक्षण करते हुए इसके सुधारात्मक कार्य हेतु मेसर्स बीएचईएल तथा सीमेंस कंपनी के द्वारा प्रारंभ करा दिया है।परियोजना अधिकारियों के अनुसार नौवीं तथा दसवीं इकाई में कम क्षति हुई है। गठित टीम के निर्देशन में तेजी से कार्य करने पर निश्चित रूप से बहुत जल्द दोनों इकाइयों को चालू कर दिया जाएगा।दूसरी ओर एनटीपीसी के अरविंद झालानी के नेतृत्व में सात सदस्यीय टीम ने बंद इकाइयों का निरीक्षण किया।टीम द्वारा इकाइयों को जल्द चालू करने हेतु अपनी रिपोर्ट एमडी सहित गठित टीम को दी जाएगी।हालांकि इसे लेकर तापीय परियोजना के अधिकारी व कर्मचारी बंद इकाइयों को चालू करने हेतु सक्रिय हो गए हैं।

Share.