स्वामी सानंद की आत्मा की शांति के लिए महाआरती का हुआ आयोजन

0

विंढमगंज (वीरेंद्र कुमार)

image

विंढमगंज। बीते गुरुवार को जैसे ही प्रोफ़ेसर जीडी अग्रवाल के निधन की खबर आई वैसे ही विंढमगंज इलाका शोक मे डूब गया।जगह-जगह शोक सभा आयोजित कर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की जा रही है।विण्ढमगज के काली मंदिर पर प्रोफेसर जीडी अग्रवाल की आत्मा की शांति के लिए विशेष पूजा अर्चना व महाआरती का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में महिलाएं व पुरुष शामिल हुए।काली मंदिर के पुजारी नंदू तिवारी ने कहा कि प्रोफेसर जी डी अग्रवाल की मौत सरकार की नाकामियों का नतीजा है, हम उनकी आत्मा की शांति के लिए मां काली से प्रार्थना कर रहे हैं।अशोक जायसवाल ने कहा कि प्रोफेसर जीडी अग्रवाल ने सोनभद्र के लिए काफी कुछ किया है।उनके निधन से हमें गहरा दुख पहुंचा है।जितेंद्र तिवारी ने कहा कि हम सभी विंढमगंज वासियों को प्रोफेसर जीडी अग्रवाल के निधन से दुख है।महा आरती में लोग दीप और मोमबत्ती लेकर माता काली की पूजा अर्चना करते हुए प्रोफेसर जीडी अग्रवाल की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना कर रहे थे।श्रद्धांजलि सभा में विण्ढमगज इलाके के मूडीसेमर, धरतीडोलवा, बुटबेडवा, सलैयाडीह, हारनाकछार सहित आधा दर्जन से अधिक गांव के लोग शामिल हुए।सन क्लब सोसायटी द्वारा भी शोक सभा गांधी पार्क में आयोजित की गई जिसमें गांधी जी की प्रतिमा के सामने सोसायटी के लोगों ने 2 मिनट का मौन रखकर प्रोफेसर जीडी अग्रवाल की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।शोक सभा में डॉक्टर राज कपूर, रमेश चंद, एडवोकेट प्रभात कुमार, अक्षेबर केसरी, किशोर पटवा, नंदकिशोर गुप्ता, विकास जायसवाल, ओम प्रकाश यादव, संजीत गुप्ता, अजय गुप्ता, शांति देवी, प्रमिला देवी, कुसुम देवी, लीलावती देवी, संध्या देवी, कंचन कुमारी, प्रतिमा कुमारी, रेखा कुमारी, शशि कुमारी, सुमन कुमारी, प्रेम शिला देवी सहित सैकड़ों की संख्या में महिला व पुरुष मौजूद थे।

image

Share.