संदेश यात्रा एवं स्वयंसेवकों के तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का हुआ आयोजन

म्योरपुर (राजीव मिश्र)

image

म्योरपुर। स्थानीय बनवासी सेवा आश्रम के विचित्रा सभाकक्ष में शुक्रवार को तीन दिवसीय संदेश यात्रा एवं स्वयंसेवक प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।प्रशिक्षण में स्वयंसेवकों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करने और लोगों को इससे हो रही हानि के बारे में समझाया गया।कार्यक्रम में बड़ी संख्या में विभिन्न गांव से आए प्रतिभागी मौजूद रहे।पर्यवारण संरक्षण और जागरूकता को लेकर आयोजित तीन दिवसीय प्रशिक्षण का उद्घाटन करते हुए बनवासी सेवा आश्रम की शुभा प्रेम ने कहा कि संदेश यात्रा कस्तुरबा और बापू की 150वीं जयंती के उपलक्ष में दस सितंबर से दो अक्टूबर के मध्य निकाली जाएगी।इसके लिए 13 टीमों का गठन किया गया है।

image

कहा इन टीमों के माध्यम से लोगों को प्रदूषण और उसके होने वाले प्रभावों और बचाव के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी।उन्होंने कहा कि सिंगरौली इलाका पूरी तरह से प्रदूषित हो गया है।यहां के लोगों के फल, फसल और शरीर पर इसका प्रभाव पड़ा है।उन्होंने कहा कि समय रहते लोग नही चेतते हैं तो इसका भयंकर परिणाम भुगतना होगा।उन्होंने कहा कि इसी के लिए यह संदेश यात्रा निकाली जा रही है।लोक विज्ञान संस्थान देहरादून के वैज्ञानिक अनिल गौतम ने प्रशिक्षणार्थियों को विभिन्न विषयों पर विस्तार से जानकारी दी।इसके अलावा खतरा केंद्र नई दिल्ली की वैज्ञानिक बसुधा व रंजन ने भी स्वयंसेवकों को विभिन्न विषयों पर प्रशिक्षित किया।प्रशिक्षण में आश्रम के 13 कार्य क्षेत्रों के 52 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।प्रशिक्षण के दौरान केवला दुबे, मीरा बहन, रमेश यादव, नरेश कुमार, सुभाष शाही समेत बड़ी संख्या में प्रतिभागी मौजूद रहे।

image