सोन पढ़ेगा सोन बढ़ेगा कि जिलाधिकारी ने आयोजित की समीक्षा बैठक

Posted by

सोनभद्र (राकेश अग्रहरि/मुकेश सिंह)

image

सोनभद्र। हकीकत में तालीम अनमोल है, शिक्षा प्राप्त करने से खुद इन्सान के बहुत सारे मामले सुलझ जाते हैं, शिक्षा से समाज के चतुर्दिक विकास के सभी रास्ते खुले रहते है, शिक्षा के बिना विकसित व अच्छे समाज की कल्पना कभी भी नही की जा सकती, लिहाजा जिले के  हर नागरिक हर हाल में अपने बच्चों को स्कूलों में शत् प्रतिशत नामांकन करायें और नांमाकित बच्चों की पढाई लिखाई का कार्य आगे जारी रखते हुए उच्च शिक्षा अवश्य दिलायें ताकि सोनभद्र के बच्चे आगे चलकर प्रदेश व देश का नाम रौशन करें।उक्त बातें जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह ने शुक्रवार को सर्व शिक्षा अभियान के अन्तर्गत ‘‘प्रवेश उत्सव-2018-19‘‘, ‘‘सोन स्कूल कायाकल्प- शिक्षा का संकल्प‘‘, ‘‘सोन पढ़ेगा, सोन बढ़ेगा‘‘ के तहत आयोजित समीक्षा बैठक में दिये। उन्होंने कहा कि जिले का हर बच्चा स्कूल में जायें, इसके लिए सुनिश्चित किया जाय कि परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक, शिक्षामित्र के साथ ही स्वयंसेवी संगठनों के पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र मेें डोर-टू-डोर यह सुनिश्चित करें कि ड्राप आउट बच्चें हर हाल में स्कूल जायें।श्रमिक क्षेत्रों, मलिन बस्तियों, औद्योगिक क्षेत्रों में निवास करने वाले नागरिकों के दरवाजे जाकर उनके बच्चों की स्थिति जानें और जो बच्चें स्कूल जाने से वंचित रह गये हैं, उन्हें स्कूल जाने के लिए प्रेरित करें।उन्होंने कहा कि उप श्रमायुक्त यह सुनिश्चित करें कि किसी श्रमिक का बच्चा बढ़ने से वंचित न रहें और श्रमिक के बच्चों को श्रम विभाग की योजनाओं से वंचित न रहने पायें।समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी श्री सिंह ने कहा कि परिषदीय स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता, स्वच्छ शौचालय के साथ ही स्कूलों में निःशुल्क ड्रेस वितरण, पाठ्य-पुस्तक वितरण कराने के साथ ही शिक्षा व स्वच्छता तथा स्वास्थ्य के प्रति बच्चों को जागरूक किया जाय। उन्होंने कहा कि बच्चों को जागरूक करने के लिए बच्चों के अभिभावकों को प्रेरित किया जाय।बैठक में जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह के अलावा मुख्य विकास अधिकारी सुनील कुमार वर्मा, जिला विद्यालय निरीक्षक राजशेखर सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डाॅ0 गोरखनाथ पटेल, उप श्रमायुक्त पिपरी, जिला दिव्यांगजन अधिकारी श्री ऋतुराज सिंह, खण्ड शिक्षा अधिकारीगण सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहें।